सीरिया में हज़रत जैनब और हज़रत खालिद बिन वलीद की मज़ार पर हमले से मुसलमान बेचैन और गुस्से में

26 Jul

अमरोहा ! 26th July 2013

आल इण्डिया जमात रज़ा ऐ मुस्तफा अमरोहा ने सीरिया में नवासी ऐ रसूल हज़रत जैनब और  पैगम्बर हज़रत मुहम्मद साहब के साथी सहाबी हज़रत खालिद बिन वलीद की मज़ार पर आतंकवादियों के द्वारा किये गए हमले की कड़ी भर्त्सना की है !

मीटिंग को संबोधित करते हुए जमात के उपाध्यक्ष डाक्टर अनीस आलम तुर्की ने कहा की पूरी दुनिया भर में आज  अमेरिका की साजिश  पर मुस्लिम राष्ट्रों को तबाह और बर्बाद किया जा रहा है और उसमे खासतौर पर इस्लामी निशानिओं अहले बैयत, सहाबा की मजारो ,सूफी संतो वालिओं के अस्तानो को खासतौर पर निशाना बनाया जा रहा है यह काम अकेले अमेरिका नहीं कर रहा है बल्कि उसने सलफी वहाबी विचारधारा वाले फसादियों की एक फ़ौज तय्यार कर रखी है! यह सलफी आतंकवादी दुनिये भर में मुसलमानों के खून की होली अमेरिका के साथ मिलकर खेल रहे हैं और जहाँ भी जा रहे हैं वहां इस्लामी निशानिओं को खत्म बर्बाद कर रहे हैं !

इसी कड़ी में सीरिया में सुन्नी बनकर उतरे यह फसादी दरअसल वहाबी सलफी है जो न सुन्निओं को छोड़ रहे हैं न शियाओं को और नवासी ऐ रसूल हज़रत जैनब और  पैगम्बर हज़रत मुहम्मद साहब के साथी सहाबी हज़रत खालिद बिन वलीद की मज़ार पर यह ताज़ा हमला इसी साजिश का नतीजा है की मुसलमानो के इतिहास को ही पूरी दुनिया से मिटा दो मगर उनकी यह साजिश कामयाब नहीं हो पायेगी क्यूंकि दुनिया का मुसलमान इस साजिश ने कहा को खूब समझ रहा है !

शहर के सुप्रसिद्ध वकील एडवोकेट शमीम अहमद तुर्क ने कहा की इस घटना की जितनी भी भर्तसना की जाये कम है जो नवासी ऐ रसूल और सहाबी की दरगाह को नहीं छोड़ रहे वोह कैसे मुसलमान हो सकते हैं इन तथाकथित मुसलमानों ने इस्लाम को पूरी दुनिया में बदनाम किया है और इनको पहचानना होगा और इनका इनकी विचरधारा का पूरी तरह बॉयकाट करना होगा!   डाक्टर मुकर्रब हुसैन ने कहा की आलम –ऐ- इस्लाम में आज जो भी अशांति है है वोह सब इसी फसाद की देन है हम सब को इस फसाद को समझना होगा इस फसाद के खिलाफ एक आवाज़ बनकर खड़े होना होगा !

युवा नेता सभासद मुहम्मद यासिर अंसारी ने हमले की मज्ज्मत करते हुए कहा की मुसलमान इन हरकतों को कतई बर्दाश्त नहीं करेंगे और सऊदी अरब को सीरिया के आतंकवादियों का समर्थन करना छोडना होगा !

इस मौके पर मुहम्मद यासिर अंसारी, दानिश वारसी ,फरदीन कादरी,हाफिज मुहम्मद नईम,हाफिज असगर ,याहया खान ,जुनैद काज़मी,हाफिज यामीन समेत जमात रज़ा के पदाधिकारी उपस्थित थे !

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: